General Rule

अन्य सामान्य नियम

प्रत्येक छात्र / छात्रा बी०आर०एस०, आर०एस०एस० महाविद्यालय का सदस्य हैं पूर्ण अनुशासन और शुद्ध आचरण की उससे अपेक्षा की जाति हैं | अनुशासनहीनता, उदण्डता एवं दुर्व्यवहार किसी भी दशा में क्षम्य नहीं हैं | इससे छात्र / छात्रा समुदाय की गरिमा को ठेस पहुंचती है | अतः संस्था के बाहर या भीतर सभी जगहों पर उनसे सम्यक व्यवहार तथा संस्था की मर्यादा का ध्यान रखना अपेक्षित है |
उन्हें प्रत्येक अन्य छात्र के प्रति शालीन व्यवहार तथा अपने प्रद्यापकों तथा संस्था के समस्त अन्य कर्मचारियों के प्रति आदर का प्रदर्शन करना चाहिए | सभी छात्र / छात्राओं को उपस्थिति में नियमित तथा समयपरक होना चाहिए |
संस्था के समुचित संचालन के लिए समय - समय पर जो नियम बनाये जाते हैं अथवा जो निर्देश या आज्ञायें दी जाति हैं, उनका अनुशासित एवं मर्यादित ढंग से पालन करना प्रत्येक छात्र / छात्रा के लिए अनिवार्य हैं | प्राचार्य द्वारा नियुक्त अनुशासनाधिकारी इस बात को देखेंगे कि छात्र / छात्राओं द्वारा का समुचित ढंग से पालन किया जा रहा है अथवा नहीं | दोषी छात्र / छात्रा अनुशासनात्मक कार्यवाही के भागी होंगे तथा दण्डित किये जायेंगे |
छात्रा / छात्राओं को सुझाव दिया जाता है कि वे अपने अध्ययन में विशेष रूचि लें तथा खाली समय में इधर - उधर न घूमें | खाली समय में वाचनालय अथवा पुस्तकालय का सदुपयोग करें |
सभी छात्र/छात्राओं को शुल्क सम्बन्धी जानकारी कार्यालय अधिक्षक से प्राप्त करनी चाहिये | असावधानी अथवा अनभिज्ञता से कठिनाइयाँ उत्त्पन्न हो सकती है |
अवकाश आवेदन या किसी भी प्रकार का आवेदन आदि के लिए सभी आवेदन पत्र प्राचार्य को सम्बोधित होने चाहिए|
किसी भी प्रकार की उद्दण्डता,शोर करना, नारे लगाना अथवा महाविद्यालय की संपत्ति को क्षति पहुँचाना अक्षम्य है | दोषी छात्र/छात्रा महाविद्यालय से निष्कासित किया जा सकता है |
स्वयं हिंसा करना या हिंसा के प्रति प्रोत्साहित करना निषिद्ध है दोषी छात्र/छात्रा दण्ड के भागीदार होंगे |
छात्र/छात्राओं को समय-समय पर निकलने वाली सूचनाओं के सन्दर्भ में सुचना पट्ट पर (नोटिस बोर्ड) देखते रहना चाहिए |